ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रादेशिक मन्डल जनपदीय तहसील ब्लॉक गाँव राजनैतिक अपराध
नई दिल्ली में सिटी मोंटेसरी स्कूल लखनऊ द्वारा सी.एम.एस.एलुमनाई मीट में *सीएमएस के संस्थापक डॉ जगदीश गांधी ने पीएम मोदी से विश्व संसद बनाने की अपील* :::--
December 14, 2019 • Sun India Tv News चैनल • राष्ट्रीय

नई दिल्ली, 14 दिसंबर:*2019

सिटी मोंटेसरी स्कूल द्वारा सी.एम.एस एलुमनाई मीट आज डिप्टी चेयरमैन हॉल, कंस्टीटूशन क्लब ऑफ़ इंडिया, नई दिल्ली मे आयोजित की गई, जिसमे मुख्य अतिथि के रूप मे ' *मानींय श्री कुलजीत सिंह चहल* , महामंत्री, बीजेपी, दिल्ली प्रदेश भी शामिल हुएजिन्होंने दिप प्रज्वलित करके कार्यक्रम के शुभ आरम्भ किया I इस मीट मे विशिष्ट अतिथि के रूप मे श्री अभय आदित्य सिंह, प्रेजिडेंट, नगाड़ा फाउंडेशन और श्रीमती छवि कला सिंह, प्रेजिडेंट बीजेपी महिला मोर्चा, नई दिल्ली (शारदा डिस्ट्रिक्ट) भी शामिल हुए I

मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि और सीएमएस एलुमनाई का स्वागत करते हुए, सीएमएस के संस्थापक, *डॉ जगदीश गांधी* ने कहा कि सीएमएस के पूर्व छात्रों ने हमेशा विश्व एकता और विश्व शांति लाने के लिए वसुधैव कुटुम्बकम की विचारधारा को आगे बढ़ाया है I और उन्होंने प्रेस और मीडिया को सम्भोधित करते हुए हुए प्रधानमंत्री  श्री नरेंद्र मोदी से विश्व संसद बनाने कि अपील की, डॉ गांधी ने कहा की प्रधानमंत्री मोदी एक वैश्विक नेता के रूप में उभरे हैं जिन्होंने दुनिया भर में यात्रा के दौरान सभी प्रमुख विश्व नेताओं से मुलाकात करके दुनिया को एकजुट करने की पहल की है I

डॉ जगदीश गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी से दुनिया के 2.5 अरब बच्चों और आगे आने वाली पीढ़ियों के सुरक्षित भविष्य के लिए विश्व के सभी प्रभुसत्ता सम्पन्न राष्ट्रों की बैठक भारत मे बुलाकर एक वैश्विक लोकतंत्र (विश्व संसद) की स्थापना करने की अपील की विश्व नेताओं की इस बैठक का एजेंडा विश्व संसद के गठन के माध्यम से दुनिया का एक नयी राजनीतिक और आर्थिक व्यवस्था तैयार करना चाहिए ताकि संसार के 2.5 अरब बच्चों और आने वाली पीढ़ियों के भविष्य को सुरक्षित किया जा सके I

यह जानकारी सिटी मॉन्टेसरी स्कूल, लखनऊ के इंटरनेशनल रिलेशन्स डिपार्टमेंट के हेड, श्री शिशिर श्रीवास्तव ने प्रेस और मीडिया को दी और बताया कि सीएमएस के पूर्व छात्र, जो अब IAS, IPS, IRS, ISRO में वैज्ञानिक, बहुराष्ट्रीय कंपनियों के निदेशक, वकील और सैन्य कर्मियों के रूप में उल्लेखनीय पदों पर पदस्थ हैं उन्होंने इस मीट में प्रतिभाग किया  और अपने स्कूली जीवन और अन्य समृद्ध अनुभवों की यादे  ताजा की है।