ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रादेशिक मन्डल जनपदीय तहसील ब्लॉक गाँव राजनैतिक अपराध
लखनऊ:उन्नाव की बेटी के लिए सपा मुखिया अखिलेश यादव धरने पर बैठे पूर्व मुख्यमंत्री ,विधानसभा के सामने धरने पर बैठे ::--
December 7, 2019 • Sun India Tv News चैनल • राष्ट्रीय

लखनऊ:उन्नाव की बेटी के लिए सपा मुखिया अखिलेश यादव धरने पर बैठे पूर्व मुख्यमंत्री ,विधानसभा के सामने धरने पर बैठे :अखिलेश ने 2 मिनट का मौन व्रत रखा।
 दिनांक -   07-12-2019
                  *शोक सभा* 
     समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव के नृेत्तव में उत्तर प्रदेश की विधान सभा पर उन्नाव की रेप प्रणिता की दुखद मृत्यु पर शोक सभा 11:40 की गई ।
अखिलेश यादव का बयान

उन्नाव की घटना बहुत दुखद है इस घटना की जितनी भी निंदा की जाए कम है,इस सरकार में ना बेटियां सुरक्षित है ना उनका सम्मान सुरक्षित है


 क्या यही भारतीय जनता पार्टी का नारा था, देश के राष्ट्रपति इस प्रेस ने दी है यह बात मैंने कितनी बार कही होगी देश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार उत्तर प्रदेश से ही बनी है पिछली बार भी उत्तर प्रदेश से ही बनी थी।

हमने दुनिया की सबसे बेहतरीन जोरदार दी थी , 1090  सुविधा से क्या दिक्कत है सरकार को,उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री डीजीपी और होम सेकटरी के हटे बिना , उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था नहीं स्थापित कर सकते इतनी दुखद निंदनीय घटना कहीं नहीं हुई होगी पहले पूरा देश हैदराबाद की घटना को लेकर गुस्से में था ।

उसके बाद उन्नाव की घटना उसी तरीके से हुई यह घटना भारतीय जनता पार्टी की सरकार में पहली नहीं है बेटी बहादुर थी ।उसके आखिरी शब्द भी यही थे हमें अभी जिंदा रहना है डॉक्टर से यही करी थी।

 क्या वह जिंदा रहेगी या नहीं रहेगी सब की कोशिशों के बाद भी उसकी जान नहीं बच पाई ।यह हमारे लिए जो आज के समाज में हम रह रहे हैं उसके लिए शर्म के लिए बात है।

मुख्यमंत्री आवास में इसके पहले भी उन्नाव से लड़की आई थी बाराबंकी से एक लड़की आई थी जिसको न्याय अभी तक नहीं मिला,जिसकी जान गई है आज उसकी भी दोषी है तो सरकार,जिन पर आरोप है वह भारतीय जनता पार्टी से जुड़े लोग हैं।

आज वह हमारे बीच नहीं है लेकिन हमको प्रेरणा देती है कि लड़ना चहिये।

: उन्नाव रेप पीड़िता के भाई ने कहा 

 उनकी बहन इंसाफ चाह रही थी और जीना चाहती थी वह हम नहीं कर पाए लेकिन अब उनकी बहन को इंसाफ दिलाना उनका कर्तव्य है और वह अपनी बहन को इंसाफ दिलाएंगे साथ ही उन्होंने बताया कि उनकी बहन ने उनसे गले मिलकर कहा था कि हमें बचा लीजिए मैं जीना चाहती हूं।

उनकी योगी सरकार से सिर्फ एक ही मांग है कि उन्हें कुछ नहीं चाहिए सिर्फ जो दरिंदे अभी भी इस दुनिया में जिंदा है उनकी सिर्फ वह मौत देखना चाहते हैं, आईसीयू में जाने से पहले रेप पीड़िता ने अपने भाई को गले लगा कर कहा मुझे बचा लीजिए मैं जीना चाहती हूं।

भाई ने कहा था दिल्ली से बचाकर लेकर जाएंगे लेकिन वह नहीं हो पाया वह सिर्फ आप इंसाफ चाहते हैं।भाई ने कहा जो हुआ तो हुआ लेकिन अब उन्हें इंसाफ चाहिए।