ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रादेशिक मन्डल जनपदीय तहसील ब्लॉक गाँव राजनैतिक अपराध
जिलाधिकारी लखनऊ अभिषेक प्रकाश द्वारा जिला स्तरीय उधोग बन्धु की आठ बिंदुओ पर की बैठक हुई::--
November 18, 2019 • Sun India Tv News चैनल • जनपदीय

आज कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी श्री अभिषेक प्रकाश द्वारा जिला स्तरीय उधोग बन्धु की बैठक आहूत की गई। जिसमे जी0एम0 डी0आई0सी0 श्री पवन अग्रवाल, नगर निगम, लोक निर्माण विभाग, आवास विकास, विधिक एवं माप विभाग, खाद्य सुरक्षा, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निवेश मित्र पोर्टल की समीक्षा के साथ बैठक में आए हुए उद्यमियों/निवेशकों की समस्याओं का निस्तारण किया गया। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निम्नवत दिशा निर्देश दिए गए :- 

1) बैठक में सर्वप्रथम जिलाधिकारी द्वारा उद्यमियों के लिए बनाए गए निवेश मित्र पोर्टल की समीक्षा की गई। संज्ञान में आया कि समय सीमा के बाहर के सबसे अधिक लंबित प्रकरण रजिस्ट्रेशन फ़र्मस सोसाइटी एंड चिट फण्ड, खाद्य सुरक्षा और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के रहे। जिसके लिए जिलाधिकारी द्वारा नाराज़गी व्यक्त की गई और निर्देश दिया कि आगामी 1 सप्ताह के अंदर समय सीमा के बाहर के प्रकरणों का शत प्रतिशत निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। खाद्य सुरक्षा द्वारा बताया गया कि समय सीमा के बाहर के सभी प्रकरणों का आज निस्तारण करा दिया गया है कल तक पोर्टल पर अपडेटेड फिगर उपलब्ध हो जाएगी। 

2) जिसके पश्चात जिलाधिकारी द्वारा जनपद में MOU इकाइयों की भी समीक्षा की गई। जिसमे समिति के अध्यक्ष/जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि उक्त बिंदु की विस्तृत समीक्षा कर आगामी बैठक में अवगत कराया जाए। 

3) उद्यमियों द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि जगजीवन राम उपरगामी सेतु से लेकर हैदरगंज तिराहे तक अत्यधिक जाम की समस्या है। जिसके सम्बंध में जिलाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि 15 नवम्बर से 30 नवम्बर तक उक्त क्षेत्र मे वृहद स्तर पर अतिक्रमण हटवाने का अभियान चलाया जा रहा है। जिसके लिए अपर जिलाधिकारी भू0आ0 प्रथम को नोडल नियुक्त किया गया है। 

4) जिसके पश्चात उद्यमियों द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि अमौसी और सरोजनीनगर औधोगिक क्षेत्र को अभी तक नगर निगम को हैंडओवर नही किया गया है। हालांकि दोनों विभागों द्वारा संयुक्त सर्वे भी किया जा चुका है परन्तु अभी तक कोई निर्णय नही लिया गया। जिसके सम्बंध में नगर निगम द्वारा बताया गया कि औद्योगिक क्षेत्र की सड़कें गड्ढा युक्त है व नाली एवं साइट पूर्णयता कच्ची पाई गई तथा वर्तमान में विभिन्न स्थानों में जल भराव विधमान है। जिसके लिए नगर निगम द्वारा सन्दर्भित क्षेत्र में निर्माण कराए जाने के लिए बजट का प्रस्ताव उपलब्ध करा दिया गया है। जिसके लिए जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि 15 दिन के अंदर नगर निगम उक्त क्षेत्र का हैंडओवर ले ले और पुलिस विभाग को निर्देश दिया कि रात के समय उक्त क्षेत्र की पेट्रोलिंग भी बढ़ाई जाए। 

5) उद्यमियों द्वारा अवगत कराया गया कि तुलसीदास मार्ग निकट बालाजी मंदिर के पहले बनी पुलिया के चौड़ीकरण किया जाना था। जिसके सम्बंध में लोक निर्माण विभाग द्वारा बताया गया कि उक्त कार्य के लिए बजट स्वीकृति के लिए भेजा गया है। जिसके सम्बंध में जिलाधिकारी द्वारा लोक निर्माण विभाग को आदेशित किया गया कि दो दिन के अंदर सप्लीमेंट्री बजट के संदर्भ में शासन से संपर्क करके अवगत कराया जाए।

6) औधोगिक क्षेत्र चिनहट की नालियों की मरम्मत और निर्माण का कार्य भी रुका हुआ है। जिसके लिए विभाग द्वारा बताया गया कि उक्त कार्य के लिए 177.52 लाख का स्टीमेट स्वीकृति हेतु मुख्यालय प्रेषित किया जा चुका है। जिसके लिए जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि 1 सप्ताह में बजट स्वीकृति की कार्यवाही सुनिश्चित कर अवगत कराया जाए। 

7) उद्यमियों द्वारा अवगत कराया गया कि मटियारी चौराहे के पास टेम्पो व ई रिक्शा चालकों द्वारा अनियंत्रित पार्किंग की जाती है जिससे उक्त  क्षेत्र में अत्याधिक जाम और आवागमन में असुविधा रहती है जिसके लिए जिलाधिकारी द्वारा एस0पी0 ट्रैफिक को उक्त क्षेत्र की यातायात व्यवस्था को सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। 

8) औधोगिक क्षेत्र नादर गंज में व्यक्तियों द्वारा अपनी दुकानें लगा कर अतिक्रमण किया गया है। जिसके लिए उन व्यक्तियों की दुकानों पर नोटिस चस्पा किये जा चुके है और लाउडस्पीकर से कब्ज़ा हटाने की घोषणा भी कराई जा चुकी है। जिसके पश्चात कुछ लोगो के द्वारा तो अतिक्रमण हटाया गया परन्तु अधिकांश लोग अभी भी क़ब्ज़ा किये हुए है। जिसके लिए जिलाधिकारी द्वारा सम्बंधित विभाग को निर्देश दिया गया कि उक्त अतिक्रमणकारियों पर एंटी भू माफिया के तहत कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।