ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रादेशिक मन्डल जनपदीय तहसील ब्लॉक गाँव राजनैतिक अपराध
इस्‍लामिक स्‍टेट के सरगना अबु बक्र अल बगदादी के मारे जाने की खबर एक बार फिर सुर्खियों में::-
October 27, 2019 • Sun India Tv News चैनल

*ब्रेकिंग न्यूज़ -*

इस्‍लामिक स्‍टेट के सरगना अबु बक्र अल बगदादी मारा गया? यह खबर एक बार फिर सुर्खियों में है. बताया जा रहा है कि सीरिया में अमेरिकी सेना के एक बड़े ऑपरेशन में आतंक के इस आका को ढेर कर दिया गया. बगदादी के मारे जाने को लेकर अमेरिकी की ओर से आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं गया है, लेकिन डोनाल्‍ड ट्रंप ने ट्वीट करके बड़ा संकेत जरूर दिया है.

अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने ट्वीट किया है, 'कुछ बड़ा हुआ है'. अब ये बड़ा क्‍या हुआ है, कहां हुआ है, कब हुआ है? से सब सवाल अभी सवाल ही हैं, जिनके जवाबों का इंतजार है.

समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस ने अमेरिकी अधिकारी के हवाले से दावा किया है कि सीरिया के इदलिब प्रांत में बगदादी को टारगेट करने के लिए ऑपरेशन चलाया गया. अमेरिकी अधिकारी ने बताया कि शनिवार को ऑपरेशन चलाया गया था. हालांकि, अधिकारी ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि बगदादी मारा गया या नहीं.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स से बातचीत में एक अमेरिकी अधिकारी ने माना कि बगदादी मारा गया. न्‍यूज वेबसाइट 'डिफेंस वन पोर्टल' ने रविवार को बताया कि बगदादी सीरिया में अमेरिकी सेना के ऑपरेशन में मारा गया. पोर्टल ने दावा किया कि उसे सूचना मिली है कि बगदादी ने अमेरिकी सुरक्षाबलों की कार्रवाई के दौरान आत्मघाती विस्फोट कर खुद को उड़ा लिया, हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है कि इस विस्‍फोट में बगदादी मारा गया या नहीं?

वहीं, न्‍यूजवीक ने अमेरिकी सैन्‍य अधिकारी के हवाले से दावा किया है कि बगदादी आर्मी ऑपरेशन में मारा गया. खबर यह भी है कि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप जल्‍द मीडिया के सामने कोई बड़ी घोषणा कर सकते हैं.

वहीं, इराकी सेना के दो सोर्सेज के हवाले से भी बगदादी की मौत की खबर सामने आ रही है. रॉयटर्स के साथ बातचीत में इन दोनों सूत्रों ने बगदादी की मौत की खबर की पुष्टि की है.

रॉयटर्स ने इराक सूत्रों के हवाले से लिखा, 'हमारे नेटवर्क के लोगों से हमने यह पता लगाने को कहा था कि बगदादी मारा गया या जिंदा है? उन्‍होंने बगदादी की मौत की पुष्टि की है. बगदादी जिस ठिकाने पर छिपा हुआ था, उसका पता लगने पर ऑपरेशन चलाया गया. जिस वक्‍त यह हमला हुआ, उस वक्‍त बगदादी अपने परिवार के साथ सीरिया के इदलिब से बाहर निकलने की फिराक में था.'