ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रादेशिक मन्डल जनपदीय तहसील ब्लॉक गाँव राजनैतिक अपराध
ब्रेकिंग न्यूज़:प्रबंध निदेशक यूपीएसआरटीसी राज शेखर ने बसों में सेवा की गुणवत्ता का आकलन करने और सेवाओं में सुधार के लिए परिवहन निगम की बसों का किया औचक निरीक्षण खामियों पर की निलंम्बन:की कार्यवाही::---:--
February 9, 2020 • Sun India Tv News चैनल • प्रादेशिक

प्रबंध निदेशक यूपीएसआरटीसी के बसों में सेवा की गुणवत्ता का आकलन करने और सेवाओं में सुधार के लिए उनके अनुभव और सुझाव प्राप्त करने के लिए यात्रियों से के लिए बातचीत करने हेतु आज के "आकश्मिक भ्रमण" के हाईलाइट्स इस प्रकार हैं:

1- "सेवा गुणवत्ता जांच " अभियान के तहत आज एमडी यूपीएसआरटीसी ने एक औचक निरीक्षण के लिए यूपीएसआरटीसी के बस में यात्रा की।

2- एमडी ने अयोध्या की तरफ से बाराबंकी के प्रवेश मार्ग के रिंग रोड पर अकबरपुर डिपो (आजमगढ़ से लखनऊ तक) की बस संख्या यूपी 45 टी 5891 लिया।

3- उस समय बस में कुल 17 यात्री यात्रा कर रहे थे।एमडी ने बाराबंकी से लखनऊ तक का टिकट शुल्क का भुगतान करके टिकट लिया।

4- एमडी ने बाराबंकी से लखनऊ (पॉलिटेक्निक चौराहा) तक की यात्रा की।

उन्होंने बस में "आम यात्री" की तरह चीजों का विस्तृत अवलोकन किया और अपने अनुभव, प्रतिक्रिया और सुझावों के लिए सह-यात्रियों के साथ अनौपचारिक बातचीत की।

एमडी द्वारा की गई महत्वपूर्ण टिप्पणियां हैं:

चालक अच्छा था और गति सीमा के भीतर वाहन चला रहा था और सुरक्षा सावधानियों का अनुपालन कर रहा था। उन्होंने नामित वर्दी (शर्ट) नहीं पहना था।
यात्रा के अंत में जब एमडी ने ड्राइवर और ड्राइवर के साथ बातचीत की, तो उन्होंने कहा कि उन्हें बसों की समय और गुणवत्ता रखरखाव के बारे में कार्यशाला और डिपो में बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

कंडक्टर ने टिकट तुरंत जारी कर दिया और टिकट जारी करने के बाद सटीक बदलाव किया।इमरजेंसी मेडिकल किट कंडक्टर के पास उपलब्ध थी।बस में अग्निशमन किट उपलब्ध थी।

बस की सामान्य सफाई की जब बात आई, तो बस का रख-रखाव ख़राब हालत में था, कई खिड़कियों में कांच की खिड़कियां और लेचेस गायब थे, कई जगहों पर सीट कवर फटे हुए थे, इमरजेंसी डोर को कसने की ज़रूरत थी, बस के अंदर रेलिंग / होल्डिंग कुछ हिस्सों में गायब थी।

एमडी ने जब यात्रियों के साथ बातचीत की, तो ज्यादातर सुझाव और प्रतिक्रिया अंदर से बस की स्वच्छता से संबंधित थे (वे  यात्रियों और सार्वजनिक रूप से बस के अंदर कचरे और गंदगी के लिए दोषी ठहरा रहे थे)। समय पर आगमन और प्रेषण का मामला भी नियमित यात्रियों के लिए चिंता का विषय है। उन्होंने यात्रा के बेहतर अनुभव के लिए सीट्स, विंडोज और दरवाजों की अच्छी गुणवत्ता के रखरखाव पर जोर दिया।

आज के औचक भ्रमण में एमडी आईआरसीटीसी द्वारा की गई कार्यवाही इस प्रकार हैं:

ए- एमडी ने बस के रखरखाव में सम्यक लापरवाही के लिए अकबरपुर डिपो के "बॉडी मैकेनिक" को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का आदेश दिया।
एमडी ने अकबरपुर डिपो के ग्रुप इंचार्ज को "प्रतिकूल प्रविष्टि" जारी की है।

एमडी ने बस के खराब रखरखाव के लिए एआरएम अकबरपुर डिपो और एसएम आजमगढ़ को लिखित कारण बताओ नोटिस और चेतावनी भी जारी की।

B- इस औचक भ्रमण में एमडी ने देखा कि ज्यादातर बसें बाराबंकी न्यू बस स्टेशन में प्रवेश नहीं कर रही हैं। एमडी ने सीजीएम ओ और आरएम को सभी संबंधित को आवश्यक निर्देश जारी करने और यह सुनिश्चित करने के लिए निर्देश दिया कि बस, बस स्टेशन में प्रवेश करती है और यात्रियों को बैठाती और उतारती है।

सी- यूपीएसआरटीसी बसों में 31 मार्च 2020 तक एक "कूड़ा दान " (मय कवर जिसे प्रतिदिन आसानी से साफ किया जा सके) रखने के लिए आवश्यक निर्देश जारी कर रहा है।

डी- यूपीएसआरटीसी मुख्यालय सभी आरएम / एसएम / एसआरएम / कार्यशाला प्रभारी को मानक के अनुसार 31 माच 2020 तक आवश्यक सफाई की स्थिति (और बाहर), अच्छी हालत में सीटें, क्रियाशील दरवाजे और खिड़कियां, हाथ की रेलिंग आदि अच्छी होना सुनिश्चित किए जाने और प्रत्येक बस की अंदर व बाहर से फोटो व वीडियो के साथ यूपीएसआरटीसी मुख्यालय को वापस रिपोर्ट करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर रहा है।

ई- यूपीएसआरटीसी मुख्यालय सेवाओं का आकलन और सुधार करने के लिए नियमित आधार पर फील्ड्स अधिकारियों द्वारा बसों के औचक और रैंडम जांच सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक निर्देश भी जारी कर रहा है।
- आरएम और एसएम- एक महीने में दो
- एआरएम - एक महीने में चार

साथ ही फोटो और वीडियो सहित तथ्यों को प्रस्तुत करने और कार्रवाई की नियमित आधार पर यूपीएसआरटीसी मुख्यालय को रिपोर्ट करना है।
--------