ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रादेशिक मन्डल जनपदीय तहसील ब्लॉक गाँव राजनैतिक अपराध
ब्रेकिंग न्यूज़::गृह मंत्रालय ने जारी की गाइडलाइन 31 मई तक लॉकडाउन 4.0 रहेगा:::~~पढें विस्तार से
May 17, 2020 • Sun India Tv News चैनल • राष्ट्रीय

लॉकडाउन अभी 14 दिनों के लिए और बढ़ाया गया है। आज यानी रविवार को लॉकडाउन 53 दिन पूरे हो चुके हैं और इन दिनों और बीते 20 दिनों के बीच कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है।

नई गाइडलाइन में कुछ नया नहीं है, लगभग सभी प्रक्रिया पहले की तरह है। 

गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा लॉकडाउन 4.0 के लिए ज़ारी की गई गाइडलाइन:-------

1. मिठाई की दुकानें बन्द रहेगी( सिर्फ़ होम डिलिवरी सम्भव)।

2. सभी राष्ट्रीय-अन्तराष्ट्रीय हवाई सेवाएँ बन्द रहेंगे।

3. दुकानें खुल सकेंगी (5 से ज़्यादा लोगों की अनुमति नहीं)।

4. वैवाहिक समारोह सम्पन्न कराया जा सकता है (सिर्फ़ 50 लोग जुट सकेंगे)।

5. अन्तिम संस्कार में जाने के लिए सिर्फ़ 20 लोगों को अनुमति।

6. खेलकूद शुरू हो सकेगा(ख़ाली स्टेडियम में सम्भव)।

7. पान-गुटखा शराब की दुकाने खुलेंगी (सार्वजनिक जगहों पर थूकना/पीना दण्डनीय अपराध में आएगा)।

8. देशभर में कुल 5 तरह रेड,आरेंज,ग्रीन,बफर,कंटेनमेंट जोन बनाए गए ।

9. राज्यों की आपसी सहमति से अंतर्राज्यीय बस सुविधाएँ शुरू होगी।

10. सभी प्रकार के होटल-रेस्तराँ-बार सभी बंद रहेंगे (रेस्तराँ से सिर्फ़ होम डिलिवरी सम्भव)।

11. स्कूल-कॉलेज व अन्य शैक्षणिक संस्थाएँ बंद रहेंगे।

12. मॉल-जिम-पिक्चर हाल-स्विमिंग पूल बन्द रहेंगे।

13. सभी तरह की ट्रकों की आवाजाही शुरू होगी।

14. अब ज़िला प्रशासन तय करेंगे ज़ोन का फ़ैसला।

15. शाम 07:00 बजे से सुबह 07:00 बजे के बीच आवागाही पर रोक रहेगी यानी रात्रि बंदी।

16. सभी धार्मिक स्थल बंद रहेंगे।

 17.लॉकडाउन 4 में मेट्रो नहीं चलेगी।

 18.सभी को मास्क लगान अनिवार्य है।

 19.10 साल से कम उम्र के बच्चों को निकलने पर रोक।

  20.65 साल से ज्यादा के लोगों को निकलने पर रोक।

  21.गर्भवती महिलाओं के निकलने पर रोक लगी ।

  22.पार्कों को भी नए नियम में किया गया बंद।

   23.कंटेनमेंट जोन में कोई छूट नहीं दी जाएगी।

  24.राजनीतिक,सामाजिक आयोजन नहीं होगा।

  25.हॉटस्पॉट इलाकों में सख्ती जारी रहेगी।

  26. सरकारी दफ्तर खुलेंगे।

  27. सरकारी कैंटीन चलती रहेगी।

  28.ऑनलाइन लर्निंग चलती रहेगी।

 29.मोबाइल में आरोग्य सेतू एप होना अनिवार्य हो गया है।

  30.स्वास्थ्य मंत्रालय के पैमानों के मुताबिक कौन सा इलाका किस जोन में होगा इसको लेकर राज्य सरकार फैसला लेगी और जो सरकार ने गाइडलाइंस जारी की है उसको मानने के लिए राज्य सरकार बाध्य है।

इस महामारी से देश में अब तक 2 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है जबकि राहत देने वाली खबर यह है कि अब तक 34 हजार से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं।

वहीं इस समय सक्रिय मामले 53 हजार से ज्यादा हैं। ज्ञात हो कि पीएम मोदी ने सबसे पहले जनता कर्फ्यू की घोषणा की थी उसके बाद 24 मार्च को पहली बार लॉकडाउन की घोषणा गई जिसके बाद अप्रैल और मई दोनों महीनों में लॉकडाउन को आगे बढ़ाया गया। खैर बढ़ते मामलों के चलते एक बार फिर लॉकडाउन की मियाद बढ़ा दी गई है।