ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रादेशिक मन्डल जनपदीय तहसील ब्लॉक गाँव राजनैतिक अपराध
ब्रेकिंग न्यूज़ एटा:*डीएम ने मुख्यमन्त्री कन्या सुमंगला योजना की प्रगति समीक्षा बैठक की*:::--
December 10, 2019 • Sun India Tv News चैनल

 *कन्या सुमंगला योजना के तहत पात्र बालिकाओं को शतप्रतिशत लाभान्वित किया जाए*
---------------------------------

*संबंधित विभागीय अधिकारियों द्वारा सौंपे दायित्वों का निर्वहन करते हुए सत्यापन कार्य मे तेजी लाई जाए-डीएम*
-----------------------------------------

एटा। डीएम सुखलाल भारती की अध्यक्षता में कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई, जिसमें योजना का लाभ अधिक से अधिक पात्र लाभार्थियों तक पहुॅचाने हेतु वृहद स्तर पर मंथन किया गया। डीएम ने कहा कि महिला सशक्तीकरण शासन की प्रतिबद्वता है, जिसके दृष्टिगत राज्य सरकार द्वारा कन्या सुमंगला योजना को लागू की गई है। कन्या सुमंगला का मुख्य उददेश्य कन्या भ्रूण हत्या को समाप्त करना, समान लैगिक अनुपात स्थापित करना, बाल विवाह जैसी कुप्रथा को रोकना, बालिकाओं के स्वास्थ्य व शिक्षा को प्रोत्साहन देना, बालिकाओं को स्वावलंबी बनाने में सहायता प्रदान करना तथा बालिका के जन्म के प्रति समाज में सकारात्मक सोच को विकसित करना है।
        
               *डीएम ने कहा कि* उक्त योजना के तहत बालिका के जन्म होने पर रू0 2000/-, बालिका के एक वर्ष तक के पूर्ण टीकाकरण के उपरान्त रू0 1000/-, कक्षा-01 में बालिका के प्रवेश के उपरान्त रू0 2000/-, कक्षा-06 में बालिका के प्रवेश के उपरान्त रू0 2000/-, कक्षा-09 में बालिका के प्रवेश उपरान्त रू0 3000/- तथा ऐसी बालिकायें जिन्होंने कक्षा-12वीं उत्तीर्ण करके स्नातक अथवा 02 वर्षीय या अधिक अवधि के डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश लिया हो, को रू0 5000/- की सहायता प्रदान की जायेगी। लाभार्थी का परिवार उत्तर प्रदेश का निवासी हो, परिवार की वार्षिक आय 03 लाख तक हो, परिवार की अधिकतम 02 ही बच्चियों को योजना का लाभ मिल सकेगा। किसी महिला को द्वितीय प्रसव से जुड़वा बच्चे होने पर तीसरी सन्तान के रूप में लड़की को भी इसका लाभ मिलेगा। 
       
             *जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि* कन्या सुमंगला योजना तहत प्राप्त 3618 आवेदनों में से अवशेष आवेदनों के सत्यापन कार्य को संबंधित विभागों द्वारा गंभीरता से कार्य करते हुए अतिशीघ्र पूर्ण किया जाए। खण्ड विकास अधिकारी, खण्ड शिक्षा अधिकारी, एमओआईसी, डीपीओ, डीआईओएस आदि द्वारा प्रगति में तेजी लाने हेतु सौपे दायित्वों का पूर्ण निष्ठा के साथ निर्वाह किया जाए। प्राप्त आवेदनों की जांच समय से पूर्ण होनी चाहिए। ऑनलाइन आवेदन कर बालिकाओं को स्वावलंबी बनायें। 

             *एडीएम प्रशासन के0 पी0 सिंह ने कहा कि* सभी अधिकारी अपने अपने पोर्टल को चेक करके सत्यापन कार्य मे तेजी लाये। ऑफलाइन आवेदनों को भी गंभीरता से लिया जाए, उनकी भली प्रकार से चेकिंग होनी चाहिए जिससे कि कोई भी पात्र योजना का लाभ पाने से वंचित न हो। 

              *बैठक में* एडीएम प्रशासन के0पी0 सिंह, मुख्य विकास अधिकारी मदन वर्मा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 अजय अग्रवाल, एसडीएम अलीगंज पीएल मौर्य, डीडीओ एसएन सिंह कुशवाह, पीडी निर्मल कुमार द्विवेदी, डीआईओ एनआईसी संजय कुमार, बीएसए संजय सिंह, प्रोवेशन अधिकारी रश्मी यादव, ईडीएम अविरल तिवारी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी, खण्ड शिक्षाधिकारी, एमओआईसी, ऑपरेटर आदि मौजूद थे।

*राजकीय जिला कृषि एवं औद्योगिक विकास प्रदर्शनी का आयोजन 28 दिसम्बर से*
-----------------------------------------

*डीएम ने अधिकारियों, आयोजकों के साथ बैठक कर तैयार की प्रभावी रणनीति*
---------------------------------------

एटा। जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने कहा कि राजकीय जिला कृषि एवं औद्योगिक विकास प्रदर्शनी 2020 का भव्य आयोजन 28 दिसम्बर से शुरू होगा, प्रदर्शनी 28 दिसम्बर से शुरू होकर 22 जनवरी 2020 तक चलेगी। प्रदर्शनी में होने वाले कार्यक्रमों की रूप रेखा तैयार करने को लेकर एक आवश्यक बैठक डीएम ने जिले अधिकारियों, कार्यक्रम आयोजकों के साथ की। डीएम ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि इस बार प्रदर्शनी का आयोजन निर्विवाद होगा, आयोजकों की समस्याओं पर भी गंभीरतापूर्वक विचार किया जाएगा, उनके कार्यक्रम के अनुरूप उनकी सहायता हेतु बेहतर प्रयास इस बार किए जाएंगे, जिले के प्रतिभागियों को इस बार पूर्ण रूप से सहयोग प्रदान किया जाएगा। 

            *डीएम ने बताया कि* जीटी रोड स्थित सैनिक पड़ाव मैदान में राजकीय जिला कृषि एवं औद्योगिक विकास प्रदर्शनी 2020 के सफल आयोजन एवं संचालन हेतु विभिन्न प्रकार की अनुश्रवण कमेटियां बनाई गई हैं, जिनकी देखरेख में इस बार प्रदर्शनी सम्पन्न होगी। जिला प्रशासन का प्रयास रहेगा कि इस बार प्रदर्शनी को भव्य एवं आकर्षक बनाया जाए। प्रदर्शनी में होने वाले कार्यक्रमों का कलेण्डर समय से जारी किया जाएगा, जिससे कि होने वाले कार्यक्रमों के बारे में आयोजकों, आमजनमानस को भी जानकारी हो सके। 

                *एडीएम प्रशासन केपी सिंह ने कहा कि* प्रदर्शनी को आकर्षक बनाने हेतु इस बार 55 विभागीय अधिकारियों द्वारा अपने-अपने विभाग की योजनाएं आमजनमानस तक पहुंचाने हेतु विभागीय स्टाल लगाए जाएंगे। जनपद की गरिमा को छति न पहुंचे इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाए। 
  
               *बैठक में* एडीएम प्रशासन केपी सिंह, सीडीओ मदन वर्मा, एडीएम वित एवं राजस्व केशव कुमार, एसटीओ गजेन्द्र सिंह सहित अन्य संबंधित विभागीय अधिकारी, कार्यक्रम संयोजक आदि मौजूद थे।