ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रादेशिक मन्डल जनपदीय तहसील ब्लॉक गाँव राजनैतिक अपराध
*वीटो पावर सिस्टम समाप्त करने की अपील*::==डॉ. गांधी
June 20, 2020 • Sun India Tv News चैनल • अंतरराष्ट्रीय

20 जून 2020 लखनऊ 

*यूएन चार्टर डे (UN Charter Day) पर भारतीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी से अपील करेंगे डॉ जगदीश गाँधी कि वह विश्व संसद की स्थापना करें*

*पी एम मोदी से अपील है कि वह ‘भारतीय संविधान’ के ‘अनुच्छेद 51’ के अनुसार ऑनलाइन मीटिंग बुलाकर विश्व संसद की स्थापना करें*

*• कोरोना काल में सभी देशों को एकजुट करने की अपील*

आज से 75 वर्ष पूर्व 26 जून 1945 को *यूएन चार्टर* लागू हुआ था और इसी उपलक्ष में प्रतिवर्ष 26 जून को *‘युएन चार्टर डे’* मनाया जाता है। सीएमएस संस्थापक एवं विश्व विख्यात शिक्षाविद्, *डॉ जगदीश गाँधी* ने *यूएन चार्टर डे (UN Charter Day)* 26 जून पर भारतीय प्रधानमंत्री *श्री नरेंद्र मोदी* से अपील करेंगे कि वह *‘भारतीय संविधान’* के *‘अनुच्छेद 51’* के अनुसार विश्व के समस्त राष्ट्राध्यक्षों की ऑनलाइन मीटिंग बुलाकर *विश्व संसद* की स्थापना शीघ्र-अतिशीघ्र करें।

डॉ गाँधी इस बात का समर्थन करेंगे कि दुनिया को कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से बचाव तथा *‘विश्व एकता’* एवं *‘विश्व शांति’* की स्थापना के लिए *विश्व संसद* का निर्माण अत्यंत आवश्यक है और साथ ही साथ वीटो पावर सिस्टम समाप्त करने की भी अपील करी है।

सी.एम.एस. संस्थापक, *डॉ जगदीश गाँधी* ने अपने पत्र के माध्यम से प्रधानमंत्री *श्री नरेंद्र मोदी* से अपील करी है कि वह *‘भारतीय संविधान’* के *‘अनुच्छेद 51’* के अनुसार विश्व के समस्त राष्ट्राध्यक्षों की ऑनलाइन मीटिंग बुलाकर *विश्व संसद* का निर्माण शीघ्र-अतिशीघ्र करें। डॉ गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी एक वैश्विक नेता के रूप में उभरे हैं जिन्होंने दुनिया भर में यात्रा के दौरान सभी प्रमुख विश्व नेताओं से मुलाकात करके दुनिया को एकजुट करने की पहल की है। माननीय प्रधानमंत्री *श्री नरेंद्र मोदी* विश्व के लोकप्रिय, शक्तिशाली तथा महान राजनेताओं में से एक है। आप ही सभी देशों के वर्ल्ड लीडर्स को एक पटल पर ला सकते है। प्रधानमंत्री मोदी जी के ही नेतृत्व में *विश्व संसद* का गठन हो सकता है।

विश्व विख्यात शिक्षाविद्, *डॉ जगदीश गाँधी* ने आगे बताया कि वर्तमान समय में जिस प्रकार से वैश्विक महामारी कोरोना ने अपना पाँव पसारा है, विश्व के लगभग सभी राष्ट्र इसकी चपेट में आ गए है। जिस प्रकार से प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय संस्कृति *'जय जगत'* तथा *'वसुधैव कुटुम्बकम'* कि अवधारणा को साक्षात्कार किया, वह अतुलनीय है। दुनिया के 2.5 अरब बच्चों और आगे आने वाली पीढ़ियों के सुरक्षित भविष्य के लिए पी.एम. मोदी से डॉ जगदीश गाँधी ने अपील करी है कि वह *‘भारतीय संविधान’* के *‘अनुच्छेद 51’* के अनुसार ऑनलाइन मीटिंग बुलाकर एक *वैश्विक लोकतंत्र (विश्व संसद)* की स्थापना करें, जिसमें वीटो पावर जैसा कोई भी सिस्टम ना होऔर समस्त मानवजाति का कल्याण हो सके।