ALL अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय प्रादेशिक मन्डल जनपदीय तहसील ब्लॉक गाँव राजनैतिक अपराध
 *एटा ब्रेकिंग* *डीएम एटा सुखलाल भारती ने की बड़ी कार्यवाही
September 23, 2019 • Sun India Tv News चैनल

*ग्रामीणों की शिकायत पर अवागढ़ ब्लॉक के गांव रूद्रपुर में डीएम ने किया निरीक्षण*
---------------------------------


*सार्वजनिक स्थान, सड़क पर पशु बांधने वालों पर कराएं एफआईआर*
-----------------------------

*विकास कार्यो में गुडवत्ता की अनदेखी, लापरवाही पर पंचायत सचिव प्रेम विहारी को किया निलंबित*
--------------------------------

*ग्राम प्रधान कमलेश को नोटिस जारी कर, विकास कार्य गुडवत्ता के अनुरूप पूर्ण करने के निर्देश*
---------------------------------


एटा। जनता दर्शन के दौरान ग्रामीणों द्वारा की गई शिकायत को गंभीरता से लेते हुए डीएम सुखलाल भारती ने अवागढ़ ब्लॉक की ग्राम पंचायत के माजरा रुद्रपुर में निरीक्षण किया। डीएम ने इस दौरान पाया कि गाँव मे विकास कार्यों की अनदेखी की गई, निरीक्षण के दौरान गांव में काफी गंदगी थी। गांव की गलियों में काफी जलभराव मिलने पर डीएम नाराज़ हुए।

              *डीएम* को गांव में कराए गए खड़ंजे की गुडवत्ता काफी खराब मिली। प्रधान द्वारा शौचालय निर्माण कराये जाने पर डीएम ने जांच के निर्देश देते हुए कहा कि गांव के पात्र व्यक्तियों के हर हाल में शौचालय बनवाएं। निरीक्षण के दौरान चकरोड पर जलभराव, गलियों में जलभराव मिलने पर डीएम ने नाराजगी ब्यक्त की। सड़क पर हुए अतिक्रमण को डीएम ने खुद मौके पर अपने सामने हटवाते हुए निर्देश दिये कि सड़क, सार्वजनिक स्थान पर पशु बांधने वालों पर एफआईआर कराई जाएगी।

         डीएम ने इस दौरान गांव विकास कार्यो की अनदेखी, खराब गुडवत्ता मिलने पर पंचायत सचिव प्रेम बिहारी को तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही ग्राम प्रधान कमलेश को नोटिस जारी कर गांव में विकास कार्य, निर्माण कार्य मानक के अनुरूप पूर्ण कराने के निर्देश दिये। डीएम ने बीडीओ सोमनाथ मौर्य को भी कड़ी फटकार लगाते हुए क्षेत्र भ्रमण कर विकास कार्यो की चेकिंग के निर्देश दिए। डीएम ने कहा कि विद्यालय की बाउंड्री वाल का निर्माण कराये, 7 दिन बाद गांव का पुनः निरीक्षण होगा। डीएम ने गांव के प्राथमिक विद्यालय पर चौपाल लगाते हुए ग्रामीणों से अन्य विंदुओं पर वार्ता की। निर्देश दिये कि गांव के व्यक्ति एकत्रित होकर श्रमदान कर सफाई कर गांव को स्वच्छ बनाये।

           *इस अवसर पर* सीडीओ मदन वर्मा, डीडीओ एसएन कुशवाह, अधिशासी अभियंता आरईइस परवेज अली खान, खण्ड विकास अधिकारी सोमनाथ मौर्य आदि मौजूद थे।

*डीएम ने जिले के लेखपाल, कानूनगो के साथ की बैठक*
-----------------------------------

*जिले में राजस्व प्रशासन की महत्ता, पहचान कायम रहनी चाहिए*
--------------------------

*पारदर्शिता के साथ कार्य करने हेतु लेखपाल, कानूनगो को दी नसीहत*
-----------------------------------

*प्रशासन का सहयोग चाहिए तो निष्पक्षता के साथ कार्य करें लेखपाल, कानूनगो*
-----------------------------------

*आय, जाति, सामान्य निवास, जन्म मत्यु प्रमाणपत्रों की पत्रों की पैंड़ेसी निबटाएं-डीएम*
----------------------------------

एटा। जिला मजिस्ट्रेट सुखलाल भारती ने सोमवार को अपरान्ह में जिले लेखपाल, कानूनगो के साथ बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। डीएम ने लेखपाल, कानूनगो को राजस्व प्रशासन की अहम कड़ी बताते हुए कहा कि जिले में पारदर्शिता के साथ कार्य किया जाए, जिससे कि जिले में राजस्व प्रशासन की महत्ता, पहचान कायम रह सके। जनता की शिकायतों, समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण करें, जिससे कि लेखपालों के प्रति जनता का विश्वास और अधिक कायम रह सके। लेखपालों द्वारा राजस्व ग्राम वार रजिस्टर मैंटेन किया जाए जिसमें समस्त सूचनाएं अद्यतन होनी चाहिए, जिससे कि भ्रमण के दौैरान कोई समस्या न हो। 
 
              *डीएम ने कहा कि* शासन की मंशानुरूप कार्य करते हुए जनता को न्याय दिलाई, अनावश्यक जनता को परेशान करने की शिकायत नहीं आनी चाहिए। जिन प्रकरणों का समाधान आसानी से हो सकता है, उनमें लापरवाही न बरती जाए। डीएम ने स्पष्ट किया पूर्ण पारदर्शिता, निष्पक्षता के साथ लेखपाल, कानूनगो द्वारा अपने हल्का क्षेत्र में कार्य किया जाए, जिला प्रशासन द्वारा पूर्ण सहयोग दिया जाएगा। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि यदि पारदर्शिता, निष्पक्षता के साथ कार्य करने की शिकायत मिली तो संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्रों की रिपोर्ट समय से लगाते हुए निस्तारण में तेजी लाई जाए। 
 
            *एडीएम प्रशासन केपी सिंह ने कहा कि* ग्राम समाज, चरागाह, चकरोड आदि सरकारी भूमि को विशेष अभियान चलाकर कब्जामुक्त किया जाए। ग्राम समाज की भूमि पर यदि किसी नेे कब्जा कर फसल की बुआई कर दी है, तो उसे तत्काल कब्जामुक्त कराते हुए कब्जाधारक के खिलाफ कार्यवाही की जाए। 
 
            *एडीएम वित्त एवं राजस्व केशव कुमार ने कहा कि* तहसीलों में आमजनमानस को बिरासत दर्ज कराने एवं खतौनी में त्रुटिपूर्ण नामों को ठीक कराने हेतु पृथक से काउंटर की व्यवस्था की जाए। 
 
            *इस अवसर पर* एसडीएम सदर नन्दलाल सिंह, डिप्टी कलक्टर परिवीक्षाधीन रवेन्द्र कुमार, तहसीलदार दुर्गेश यादव, ईडीएम अविरल तिवारी, जिले की तीनों तहसीलों के काननूगो, लेखपाल आदि मौजूद थे।